केंद्र सरकार ग्रामीण इलाकों में विकास कार्यक्रमो को गति देने और विशेष तौर पर अपने घर वापस लौटे मजदूरों और ग्रामीण लोगो को आजीवका का साधन उपलब्ध कराने के लिए गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत करने का फैसला किया हैं।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 जून को 11 बजे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये गरीब कल्याण रोजगार अभियान का शुभारंभ करेंगे।। इस मौके पर बिहार के सीएम और डिप्टी सीएम मौजूद रहेंगे। यह अभियान बिहार के खगड़िया जिले के बेलदौर ब्लॉक के तेलिहार गाँव से शुरू किया जाएगा। इसके बाद 5 अन्य राज्यो के मुख्यमंत्री और संबंधित मंत्रालयों के मंत्री भी इस वर्चुअल लांच में हिस्सा लेंगे।

इस अभियान के तहत 6 राज्यो के 116 जिलों से लोग कॉमन सर्विस सेंटर और कृषि विज्ञान केंद्र के जरिये शामिल होंगे। इसमे कोविड 19 के मद्देनजर सभी एहतियात बरता जाएगा। ये अभियान 125 दिनों तक मिशन मोड़ में चलाया जाएगा। जिसके तहत 50 हजार करोड़ रुपये से  25 तरह के विकास कार्यो के जरिये घर वापस लौटे मजदूरों को रोजगार मुहैया करवाया जाएगा साथ ही ग्रामीण बुनियादी ढाँचे का विकास भी हो सकेगा। 

6 राज्यो बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड, और ओडिशा को इसके तहत चुना गया है। इन राज्यो के 27 आकांक्षी जिले भी इसमे शामिल हैं।