PUNJAB WEATHER

राम काज करिबे को आतुर:मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रपति के दान पर विवाद हुआ तो चंपत राय बोले- सवाल उठाने वाले इतिहास पढ़ें


राम काज करिबे को आतुर:मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रपति के दान पर विवाद हुआ तो चंपत राय बोले- सवाल उठाने वाले इतिहास पढ़ें

अयोध्या में 39 महीने में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए अब तक 100 करोड़ रुपए का चंदा इकट्ठा कर लिया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्रस्ट को 5 लाख 100 रुपए का दान दिया था। 15 जनवरी को ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरि ने खुद राष्ट्रपति से मुलाकात की थी।

मंदिर के लिए राष्ट्रपति से सहयोग राशि लेने पर सोशल मीडिया पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। रविवार को ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने आपत्ति उठाने वालों पर निशाना साधा। राय ने लोगों को इतिहास पढ़ने की सलाह दी है।

विरोध के बावजूद राजेंद्र प्रसाद सोमनाथ मंदिर गए थे
ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि जो लोग राष्ट्रपति द्वारा समर्पण राशि दिए जाने पर आपत्ति उठा रहे हैं, उन्हें याद करना चाहिए कि देश के प्रधानमंत्री के विरोध के बावजूद राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद सोमनाथ मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा में गए थे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भारतीय हैं और भारत की आत्मा में राम हैं। जो कोई सक्षम है, वह इस नेक काम में मदद कर सकता है। इसमें कुछ भी गलत नहीं है।

39 महीने में बन जाएगा मंदिर
चंपत राय ने एक बार फिर दोहराया कि देश के पांच बड़े इंजीनियरिंग संस्थान, भवन निर्माण और भू-गर्भ के अध्ययन से जुड़ी संस्थाओं के वैज्ञानिकों ने मंदिर की नींव और धरती के नीचे का अध्ययन किया है। नींव के लिए काम शुरू हो गया है। 39 महीने में मंदिर बन जाएगा।


1/18/2021 10:15:49 AM kids programming
Source:

Jalandhar Gallery

Leave a comment