भारतीय रेलवे ने पश्चिम रेलवे के विद्युतीकरण क्षेत्र में ओवरहैड इक्‍यूपमेंट वाली पहली हाईराइज डबल स्‍टैक कंटेनर सेवा को सफलतापूर्वक चलाकर एक नया विश्‍व कीर्तिमान स्‍थापित किया है।

 

पूरे विश्‍व में यह अपनी तरह की पहली उपलब्धि है, जिससे ग्रीन इंडिया जैसे महत्‍वाकांक्षी अभियान को बढावा मिलेगा। रेल मंत्रालय ने कहा कि इस महत्‍वपूर्ण उपलब्धि के साथ रेलवे हाईराइज ओवरहैड इक्‍यूपमेंट टेरिटरी में हाइरीच पेंटोग्राफ सुविधा के साथ डबल स्‍टैक कंटेनर रेलगाड़ी चलाने वाली विश्‍व की पहली रेलवे बन गई है। गुजरात के पालमपुर और बोटाड रेलवे स्‍टेशन से दस जून को इसका सफल संचालन किया गया।

रेलवे ने इस वर्ष पहली अप्रैल से 10 जून तक 17 करोड 80 लाख टन वस्‍तुओं की ढुलाई की। लॉकडाउन के दौरान 32 लाख से ज्‍यादा वैगनों के जरिए आपूर्ति जारी रखी गई। इनमें से 18 लाख वैगनों में देश भर में कोयला और उर्वरक, पेट्रोलियम पदार्थ, फल और सब्जियां, प्‍याज, खाद्य तेल, दूध, चीनी, नमक और अनाज जैसी आवश्‍यक वस्‍तुओं की ढुलाई की गई।