प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 16 और 17 जून को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से संवाद करेंगे। अनलॉक 1 में प्रधानमंत्री मोदी पहली बार सभी सीएम से बात करेंगे।

 

कोरोना महामारी के दौरान प्रधानमंत्री इससे पहले पांच बार मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद कर चुके हैं। यानी एक तरह से इस बड़े संकट के दौरान ये छठी बार होगा जब वो राज्यों से सीधे संवाद करेंगे। 16 जून को प्रधानमंत्री 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों या प्रशासकों से संवाद करेंगे।

जिसमें  पंजाब, असम, केरल, उत्तराखंड, झारखंड, छत्तीसगढ़, त्रिपुरा, हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़, गोवा, मणिपुर, नागालैंड, लद्दाख, पुदुचेरी, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, मिजोरम, अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह, दादरा नगर हवेली एवं दमन-दीव, सिक्किम, लक्षद्वीप शामिल हैं।

इसके साथ ही 17 जून को प्रधानमंत्री 15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों और प्रशासकों से संवाद करेंगे जिसमें महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, बिहार, आंध्र प्रदेश, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, तेलंगाना और ओडिशा शामिल हैं।

कोरोना संकट में हर मुद्दे पर प्रधानमंत्री ने ना सिर्फ राज्यों का हौसला बढ़ाया है बल्कि उनको इस चुनौती से निपटने के लिए भी तैयार किया है। अनलॉक 1 में धीरे धीरे जिंदगी और अर्थव्यवस्था पटरी पर लौट रही है, ऐसे में भविष्य की रणनीति के लिहाज़ से इस संवाद को काफी अहम माना जा रहा है।