प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से अपील की है कि इस छठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पररस्पर सुरक्षित दूरी के मानदंडों का पालन करते हुए घर पर अपने परिवार के साथ ही योग दिवस मनाएं ।

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों से कहा है कि रविवार को छठा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पररस्पर सुरक्षित दूरी के मानदंडों का पालन करते हुए घर पर अपने परिवार के साथ ही मनाएं। एक वीडियो संदेश में उन्होंने कहा कि योग दिवस एक सार्वजनिक आयोजन होता है लेकिन यह असाधारण समय है और इसलिए हमें इसे घर पर रहकर ही मनाना होगा।

पीएम मोदी ने कहा कि इस वर्ष के योग दिवस का विषय है- घर पर योग और परिवार के साथ योग। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है लेकिन योग में इस बीमारी से उत्पन्न चुनौतियों के बहुआयामी समाधान हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि योग से प्रतिरोधक शक्ति बेहतर होती है तथा मानसिक और शारीरिक क्षमता भी बढ़ती है। उन्होंने कहा कि योग में मानसिक, शारीरिक और मनोवैज्ञानिक चुनौतियों से निपटने की क्षमता है।

 पीएम ने कहा कि कोरोना से उबरने के बाद, इस बात पर अधिक ध्यान देने की ज़रुरत होगी कि रोगों से कैसे बचा जाए। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि इससे योग को लोकप्रिय बनाने में मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री ने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि पिछले कुछ वर्षों में, ख़ासकर युवाओँ में योग की लोकप्रियता बढ़ी है।