कलकत्ता हाईकोर्ट ने पश्चिम बंगाल में बीजेपी की तीन गणतंत्र बचाओ यात्रा को दी अनुमति, राज्यसरकार की दलील को किया खारिज, वरिष्ठ भाजपा नेता अरूण जेटली ने पूछा सवाल, कहा पश्चिम बंगाल में राजनीतिक दल के कार्यक्रम पर रोक लगाए जाने को लेकर आखिर मानवाधिकार कार्यकर्ता और विपक्षी दल चुप क्यों?

 

कलकत्ता उच्च न्यायालय ने बीजेपी को बड़ी राहत देते हुए पश्चिम बंगाल में पार्टी की गणतंत्र बचाओ रथ यात्रा को अनुमति दे दी है। अदालत ने कहा कि रथ यात्रा से होने वाला खतरा काल्पनिक है। इससे पहले पश्चिम बंगाल सरकार ने कलकत्ता उच्च न्यायालय से कहा था कि साम्प्रदायिक सौहार्द्र में खलल पड़ने का अंदेशा जताने वाली खुफिया रिपोर्ट राज्य में भाजपा की यात्रा रैलियों को इजाजत देने से इनकार करने की वजह थी।

कलकत्ता उच्च न्यायालय के फैसले का भाजपा के नेताओं ने स्वागत किया है। ये फैसला राज्य की ममता बनर्जी सरकार के लिए बड़ा झटका है जिसने गणतंत्र यात्रा को रोकने का फैसला किया था।

पश्चिम बंगाल में भाजपा के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने हाई कोर्ट के फैसले को लोकतंत्र की जीत बताया और कहा कि पार्टी अपनी रथयात्रा के जरिए ममता सरकार की तानाशाही को जनता के सामने रखेगी। भाजपा के अन्य नेताओं ने भी हाईकोर्ट के फैसले का स्वागत किया है।