तूफान 'वायु' से निपटने के लिए गुजरात तैयार

Cyclone Vayu in India

चक्रवाती तूफान वायु आज वेरावल में टकरा सकता है गुजरात तट से, तूफान से होने वाले नुकसान को कम करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें दोनों तैयार, स्थानीय लोगों को शिविरों और सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। पीएम ने कहा खुद रख रहे हैं हालात पर नज़र

 

चक्रवाती तूफान वायु ने रुख बदल लिया है। अब तूफान सीधे गुजरात तट से नहीं टकराएगा लेकिन ये तट के नज़दीक से गुज़रेगा, जिसके कारण भारी बारिश और तेज हवाएं चलने की उम्मीद है। मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि चक्रवात वायु के असर से राज्य के कई तटीय जिलों में भारी बारिश होगी। 

राज्य सरकार ने एहतियात के तौर पर निचले इलाकों में रहने वाले तीन लाख से अधिक लोगों और तटीय जिलों के मकानों में रहने वाले घरों को खाली करा दिया है। अब तक 3 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है। इस बीच, तूफान के पहुंचने से पहले सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात में कई हिस्सों में सुबह बारिश हुई। सौराष्ट्र के ज्यादातर बंदरगाहों पर 9 नंबर का सिग्नल लगाया है । इस सिग्नल का मतलब अति गंभीर तूफान से है । चक्रवात वायु के चलते रेलवे ने एहतियातन 70 ट्रेनों को रद्द कर दिया है और 28 ट्रेनों को गंतव्य से पहले ही रोकने का फैसला किया है।

लोगों की दिक्कतों को देखते हुये पश्चिम रेलवे की विशेष राहत ट्रेनें चलाने की योजना है। ये विशेष ट्रेनें गांधीधाम, भावनगर पारा, पोरबंदर, वेरावल और ओखा से प्रत्येक जगह से चलेंगी ताकि वहां से लोगों को निकालने में मदद मिले। समुद्री तट पर होने वाली सभी गतिविधियों पर विराम लगा दिया गया है। सभी विभाग अलर्ट पर हैं। सौराष्ट्र और कच्छ के तटवर्ती इलाकों में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के कर्मी तैनात कर दिए गए हैं। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि केंद्र सरकार, राज्य सरकार के संपर्क में है और ऐसी स्थिति में गुजरात को हर मुमकिन मदद दी जाएगी। उन्होने तूफान से प्रभावित क्षेत्रों में रह रहे लोगों के स्वस्थ औऱ सुरक्षित रहने की कामना की।


Jun 13 2019 3:05PM
Cyclone Vayu in India
Source:

Jalandhar Gallery

Leave a comment