भारत-नेपाल के बीच चल रहे मौजूद तनाव के बीच शुक्रवार सुबह बिहार से लगी सीमा पर नेपाल पुलिस द्वारा भारतीय किसानों पर अंधाधुंध फायरिंग करने का मामला सामने आया है। इस फायरिंग में एक भारतीय की मौत हो गई है, जबकि कुछ लोग घायल हुए हैं। इस घटना के बाद से भारत-नेपाल सीमा पर तनाव बढ़ गया है। दोनों तरफ सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए हैं। इस घटना को लेकर SSB के डीजी ने कहा क‍ि घटना नेपाल क्षेत्र के अंदर हुई है अब स्थिति पूरी तरह सामान्य है।

घटना शुक्रवार सुबह करीब 8:30 बजे सोनबरसा थाना क्षेत्र की पीपरा परसाइन पंचायत की लालबंदी जानकीनगर सीमा की है।  एपीएफ ने भारतीयों को निशाना बनाते हुए अंधाधुंध फायरिंग की। एपीएफ ने बॉर्डर इलाके से एक व्यक्ति को बंधक भी बना लिया। ग्रामीणों की मानें तो नेपाल की ओर से 18 राउंड फायरिंग की गई। मृतक की पहचान जानकी नगर टोला लालबंदी निवासी नागेश्वर राय के 25 वर्षीय पुत्र विकेश कुमार के रूप में हुई है। वहीं, विनोद राम के पुत्र उमेश राम व सहोरवा निवासी बिंदेश्वर शर्मा के पुत्र उदय शर्मा घायल हैं। बंधक बनाया गया व्यक्ति जानकीनगर का लगन राय है। नेपाल की इस कार्रवाई के बाद बॉर्डर पर तनाव बढ़ गया है। दोनों देशों के अधिकारी बॉर्डर पर पहुंचकर कैंप कर रहे।

सीतामढ़ी के एसपी अनिल कुमार ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि एपीएफ की कार्रवाई में एक भारतीय की मौत हो गई है। दो लोग जख्मी हुए हैं, जबकि एक को बंधक बना लिया है। तनावपूर्ण माहौल को देखते हुए डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा ने पुलिस व एसएसबी के अधिकारियों को बॉर्डर के हालात पर नजर रखने को कहा है