करगिल में भारत की विजय के 20 साल के पूरे होने के उपलक्ष्य में वार मेमोरियल , जालंधर में शहीद भगत सिंह मंच ने कार्यक्रम आयोजित किया गया | इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय सवयं सेवक संघ के विभाग प्रचारक पुरषोतम जी  मुख्य वक्ता थे |इस  अवसर  पर  पुरषोतम जी  ने  कहा कि पाकिस्तान अभी भी भारत में आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा है  लेकिन भारत पाकिस्तान के नापाक इरादों को कभी भी  कामयाब नहीं होने देगा।  अनेकों क्रांतिकारियों ने अपनी शहादत देकर भारत देश को आजाद कराया है हर युवक कि जिम्मेवारी हे कि  शहीदों के सपनों का भारत बनाने के लिए  राष्ट्र निर्माण कार्य में जुटे | 

करगिल युद्ध के 20 साल पूरे हो गए हैं लेकिन आज भी करगिल की पहाड़ियों पर हमारे शहीदों की वीर गाथाएं गूंज रही हैं. इस कार्यक्रम में करगिल और पुलवामा से लायी पावन माटी से तिलक किया गया |  

बता दें कि 1999 में करगिल की पहाड़ियों पर पाकिस्तानी घुसपैठियों ने अचानक कब्जा जमा लिया था. भारतीय सेना ने तभी उनके खिलाफ 'ऑपरेशन विजय' चलाया था. ये ऑपरेशन विजय 8 मई से शुरू होकर 26 जुलाई तक चला था | इस पूरे ऑपरेशन में भारतीय सेना के 527 जवान शहीद हुए थे. इसके अलावा करीब 1363 घायल हुए थे. वहीं इस लड़ाई में पाकिस्तान के करीब 3 हजार जवान मारे गए थे|

शहीद भगत सिंह मंच के सदस्य एडवोकेट पंकज शर्मा , डॉ अजय दत्ता , ईशान , रवि पराशर , धनजय भार्गव,  प्रो जसप्रीत सिंह , डॉ कमलप्रीत सिंह , रोबिन , निखिल शर्मा , रजनीश शर्मा , नवदीप बग्गा  और  जरनैल सिंह आदि भारी संख्या में युवा उपस्थित हुए  |