मध्य प्रदेश के हरदा जिले के कुकरावद गांव के युवा किसान और शिक्षक सतीश जगदीश प्रसाद गुर्जर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किये जा रहे कार्यों से प्रभावित होकर अनोखे तरीके से आभार जताया है। इस किसान ने अनाज के माध्यम से प्रधानमंत्री का चित्र बनाकर अपनी भावनाएं व्यक्त की है।

 

घर की छत पर बनी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ये तस्वीर देखने मे किसी पेंटिंग सी दिखाई देती है लेकिन यह कलाकृति अनाज से बनाई गई है जिसे मध्य प्रदेश के हरदा जिले के युवा किसान और शिक्षक सतीश जगदीश प्रसाद गुर्जर ने बनाया है। अपने परिवार के सहयोग से उन्होंने   प्रधानमंत्री मोदी का अनाज से एक पोर्ट्रेट बनाया है जो की पूर्णता अनाज से निर्मित है।

घर की छत पर 800 स्क्वायर फीट में बनाये गए इस पोट्रेट में विभिन्न अनाजों का उपयोग किया गया है । जिसमें  60 किलो चना, 25 किलो गेहूं, 20 किलो चावल, 2 किलो मटर व 1 किलो काले तिल का उपयोग हुआ है। इसे बनाने में लगभग 16 घंटों का वक्त लगा है। लॉक डाउन के दौरान जब पूरी दुनिया संकट में हैं प्रधानमंत्री के नेतृत्व में कई योजनाओं के माध्यम से लोगों को राहत देने का काम किया है। जिससे प्रभावित होकर ही एक किसान ने अपनी भावनाएं अनाज के माध्यम से ही इस तरह व्यक्त की हैं।

सतीश जगदीश प्रसाद का कहना है कि कोरोना काल की विपरीत परिस्थितियों में हमारे माननीय प्रधानमंत्री जी ने ऐतिहासिक फैसले लेकर हमें पूर्णता सतर्क किया और जन जन को राहत पहुंचाने का काम भी किया जो कि दुनिया भर में एक मिसाल है इसी लिए मैं उनके सम्मान में कुछ करना चाहता था। 

किसान परिवार का होने के नाते मुझे घर पर ही गेहूं के ढेर को देख कर ख्याल आया कि हम किसान भाइयों को भी प्रधानमंत्री जी के लिए कुछ करना चाहिए तब मैंने इस कलाकृति का निर्माण किया जो कि पूरे भारतवर्ष के अन्नदाताओं की ओर से  प्रधानमंत्री जी को समर्पित है। इस कलाकृति के माध्यम से एक युवा किसान सतीश जगदीश प्रसाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए वो कृतज्ञता का भाव व्यक्त किया है जो किसानों के दिल में हैं।