जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुई आतंकी घटना के विरोध में अधिवक्ता प्रभात पांडेय ने अपने खून से राष्ट्रपति को पत्र लिखा हैl
इस संबंध में उपजिलाधिकारी धीरेंद्र प्रताप सिंह को दिए गए ज्ञापन में कहा गया है कि पुलवामा में हुई हृदय विदारक घटना से दुख, क्रोध व क्षोभ व्याप्त है।
'देश की अर्थव्यवस्था पीछे रह जाए तो भी कोई बात नहीं'
हम यह बताना चाहते हैं कि यदि सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) कम हो जाए तो हो जाए, देश की अर्थ व्यवस्था पीछे रह जाए तो कोई बात नहीं।
सभी सब्सिडी समाप्त हो जाए, कोई परवाह नहीं, लेकिन इस हृदय विदारक घटना का प्रतिकार जरूरी है।