कर्मयोद्धा: मजदूर न मिले तो ग्रेट खली बन गए राजमिस्‍त्री, कर रहे हैं चिनाई

WWF रेसलर करनाल में अपना कोचिंग सेंटर बना रहे हैं। लॉकडाउन में उनको मजदूर नहीं मिले तो वह राजमिस्‍त्री बनग गए और इमारत की चिनाई में जुट गए हैं।

 

 

 WWE के बादशाह का नया रूप द ग्रेट खली का नया रूप सबको अचरज में डाल रहा है। WWE के किेंग दलीप सिंह राणा यानी द ग्रेट खली के हाथ में था गारा, खुरपी, शरीर मिट्टी से सने हुए। दीवार की चिनाई में जुटे हुए तो कभी ट्रैक्टर या जेसीबी चलाकर जमीन समतल कर रहे थे। मौका मिलते ही पकौड़े तलने या जलेबी भी बनाने लगते हैं। उन्‍हें ये काम करता देख हर कोई हैरान हो जाता है। थोड़ी देर में ही पता चलता है कि वे यहां इंटरनेशनल एकेडमी तैयार कर रहे हैं। जुलाई 2007 में डब्ल्यूडब्ल्यूई वर्ल्‍ड हेवीवेट चैंपियनशिप के पहले भारतीय विजेता बनने के बाद से द ग्रेट खली रिंग के निर्विवाद बादशाह बन गए। लेकिन जमीन से जुड़ाव ऐसा है कि लॉकडाउन के कारण मजदूर नहीं मिले तो राजमिस्‍त्री बन गए और अपनी एकेडमी के निर्माण में जुट गए।