भारतीय नौसेना का जहाज आईएनएस ‘मगर’, ऑपरेशन समुद्र सेतु के तहत मालदीव में फंसे भारतीयों को लेकर कल कोच्चि पहुंच गया।

 

वंदे भारत मिशन के अंतर्गत सरकार दुनिया के तमाम मुल्कों में फंसे भारतीयों को वापस स्वदेश लाने की मुहिम में जुटी है। इसी कड़ी में आईएनएस ‘मगर’ के ज़रिए 23 महिलाओं और तीन बच्चों समेत 202 भारतीय नागरिक कल कोच्चि पहुंचे। ये जहाज़ 10 मई को मालदीव से निकला था और समुद्री सफर के दौरान बेहद खराब मौसम होने के बावजूद जहाज के क्रू सदस्यों ने सभी भारतीयों को सुरक्षित स्वदेश पहुंचाया। वापस आए इन भारतीयों में ज्यादातर केरल और तमिलनाडु से हैं। 

भारतीयों को वापस लाने की प्रक्रिया में केंद्र सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पूरी तरह से पालन किया गया। कोच्चि पहुंचने पर केरल तट की निगरानी कर रहे दक्षिणी नौसैनिक कमांड, कोच्चि के तीन जहाजों ने आईएनएस ‘मगर’ का स्वागत किया। जहाज पर सवार भारतीयों के उतरने पर उनकी स्वास्थ्य जांच और उनके गंतव्य तक पहुंचने की समुचित व्यवस्था की गई।

वंदे भारत मिशन के पहले चरण में भारतीय नौसेना ने मालदीव से 900 भारतीयों को सुरक्षित स्वदेश पहुंचाया। अब आईएनएस जलाश्व दूसरे चरण में करीब 700 भारतीयों को वापस लाने के लिए 15 मई को मालदीव के लिए रवाना होगा।