कोरोनावायरस के संक्रमण को कम से कम करने के लिए देश भर में लागू लॉकडाउन का जम्मू-कश्मीर में भी सख्ती से पालन किया जा रहा है।

 

जम्मू-कश्मीर में ज़रुरी सामान मुहैया कराने वाले लोगों को ही घरों से बाहर निकलने की अनुमति है, ताकि लोगों को रोज़ाना की ज़रूरत की सारी चीज़ें मिल सकें। लॉकडाउन को प्रभावी बनाने के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है।

 

सरकार ने साफ कर दिया है कि निर्देशों का पालन ना करने वालों के खिलाफ एपिडमिक डिसीज़ एक्ट के तहत कार्यवाही की जाएगी। जम्मू-कश्मीर सरकार ने पहले ही 14 अप्रैल तक सभी सरकारी दफ्तरों को बंद करने का आदेश दे दिया है और लोगों से अपील की है कि वे घबराएं नहीं क्योंकि लॉकडाउन के दौरान भी लोगों को सभी ज़रूरी वस्तुएं मुहैया कराई जाएंगी।