PUNJAB WEATHER

3 मई के बाद कहां हटेगा लॉकडाउन, किस राज्य का क्या रुख देखे।

kids programming
lockdo

3 मई के बाद कहां हटेगा लॉकडाउन, किस राज्य का क्या रुख देखे।

3 मई को लॉकडाउन खत्‍म होगा या नहीं? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्‍यमंत्रियों की बैठक में सबसे अहम सवाल यही था। कोरोना वायरस के हजार से ज्‍यादा मामले रोज सामने आ रहे हैं। ऐसी हालत में, कई राज्‍य चाहते हैं कि 3 मई के बाद भी सख्‍ती जारी रखी जाए। मगर खतरा भारी आर्थिक नुकसान का भी है। करीब डेढ़ महीने के लॉकडाउन के नुकसान की भरपाई में वक्‍त लगेगा। कोरोना पर बने केंद्रीय मंत्रियों के समूह का तो यही सुझाव था कि 3 मई के बाद भी ट्रेनें और फ्लाइट्स ओपन ना की जाएं। एजुकेशनल इंस्‍टीट्यूट्स को भी बंद रखा जाए। केंद्र सरकार ने पिछलें दिनों दुकानें और फैक्ट्रियां खोलने के आदेश दिए थे। हालांकि आखिरी फैसला राज्‍यों पर छोड़ा गया था। उसी तरह लॉकडाउन पर अंतिम निर्णय लेने का हक भी राज्‍यों को सौंपा जा सकता है। कई राज्‍य लॉकडाउन जारी रखना चाहते हैं। किस राज्‍य का क्‍या रुख है, ये समझ लेते हैं।
लॉकडाउन जारी रख सकता है पंजाब
पंजाब उन राज्‍यों में से है जिसने हॉटस्‍पॉट्स में 3 मई के बाद भी लॉकडाउन जारी रखने के संकेत दिए हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह का मानना है कि कुछ समय के लिए लॉकडाउन को पूरी तरह हटाना संभव नहीं होगा क्‍योंकि राज्‍य ने पिछले 40 दिन में Covid-19 के कर्व में तीन बार उछाल देखा है।
कोई ढील नहीं देंगे केजरीवाल
दिल्‍ली देश के उन हिस्‍सों में से हैं जहां कोरोना सबसे ज्‍यादा फैला है। यहां करीब तीन हजार केस आ चुके हैं। मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दुकानें खोलने की इजाजत तो दी है मगर साफ कहा कि लॉकडाउन में ढील नहीं दी जाएगी। उन्‍होंने कहा था कि वे केंद्र के फैसले के बाद लॉकडाउन बढ़ाने पर कोई डिसिजन लेंगे। कोरोना पर बनी दिल्‍ली सरकार की कमिटी ने एक दिन पहले कहा था कि राष्‍ट्रीय राजधानी में 16 मई तक लॉकडाउन बढ़ाना पड़ेगा।
मुंबई, पुणे में 18 मई तक लॉकडाउन!
सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा है कि 3 मई को नेशनल लॉकडाउन खत्‍म होने के बाद हालात का रिव्‍यू होगा। उसके बाद छूट देने को लेकर कोई फैसला करेंगे। महाराष्‍ट्र देश का सबसे ज्‍यादा प्रभावित राज्‍य है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि मुंबई और पुणे में लॉकडाउन को 18 मई तक बढ़ाया जा सकता है। उन्‍होंने कहा था कि लॉकडाउन का मकसद यही था कि COVID-19 को फैलने से रोका जाए। अगर वो नहीं हो रहा तो हमें लॉकडाउन बढ़ाना पड़ेगा।
यूपी में 30 जून तक सार्वजनिक समारोहों पर रोक
उत्‍तर प्रदेश भी कोरोना से बुरी तरह प्रभावित है। यहां फैक्ट्रियां खोलने की इजाजत तो दे दी गई है मगर सख्‍ती बरती जा रही है। सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने पहले ही 30 जून तक लोगों के एक जगह जमा होने पर रोक लगा दी गई है। शादी, धार्मिक आयोजन इस दौरान नहीं हो सकेंगे। एडिशनल चीफ सेक्रटरी अवनीश अवस्‍थी भी कह चुके हैं कि जब तक कोरोना के मामले नहीं रुकते, लॉकडाउन जारी रहेगा।
हॉटस्‍पॉट में लॉकडाउन बढ़ाना चाहते हैं शिवराज
मध्‍य प्रदेश सीएम शिवराज सिंह चौहान 3 मई के बाद भी लॉकडाउन जारी रखना चाहते हैं। हालांकि उनके हिसाब से कोरोना हॉटस्‍पॉट्स में लॉकडाउन बढ़ना ही चाहिए। एमपी में इंदौर, उज्‍जैन, भोपाल और खरगौन सबसे ज्‍यादा प्रभावित हैं। सीएम ने कहा कि हम इन शहरों में किए गए अच्‍छे काम पर पलीता नहीं लगाना चाहते। बाकी राज्‍य में कंटेनमेंट एरिया पूरी तरह बंद रहेंगे। बाकी इलाके धीमे-धीमे खोले जाएंगे।
फैसला खुद करना चाहते हैं गहलोत
राजस्‍थान सीएम अशोक गहलोत शुरू से यह डिमांड करते रहे हैं कि लॉकडाउन का फैसला राज्‍यों पर छोड़ देना चाहिए। उन्‍होंने कहा है कि ग्राउंड पर हालात का अंदाजा राज्‍य सरकारों को है, ऐसे में वे बेहतर फैसला कर सकती हैं। दो हजार से ज्‍यादा मामलों वाले राजस्‍थान के 33 में से 26 जिलों से मरीज मिले हैं। ग्रामीण इलाकों में इंडस्‍ट्रीज को थोड़ी छूट दी गई है। केंद्र के निर्देश के बाद राजस्‍थान क्‍या फैसला करना है, यह देखने वाला होगा।
बेहद सख्‍त है तेलंगाना का रुख
कोरोना वायरस को लेकर सबसे ज्‍यादा सख्‍ती तेलंगाना सरकार बरतती नजर आ रही है। यहां पहले ही 7 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाया जा चुका है। ऐसी चर्चा है 25 मई तक उसे और बढ़ाया जा सकता है।

गुजरात के हॉटस्‍पॉट में रहेगा लॉकडाउन!
तीन हजार से ज्‍यादा केस सामने आने के बाद गुजरात सरकार लॉकडाउन को सख्‍ती से फॉलो कराने में जुटी है। अहमदाबाद, राजकोट, सूरत और वडोदरा में दुकानें तक खोलने की छूट नहीं दी गई है। अगर यहां कोरोना का प्रकोप इसी तरह जारी रहा तो 3 मई के बाद भी हॉटस्‍पॉट्स में लॉकडाउन जारी रखा जा सकता है। हालांकि, गुजरात सरकार ने केंद्र की गाइडलाइंस का इंतजाार करने की बात कही है।
तमिलनाडु के 5 शहर पूरी तरह बंद
तमिलनाडु के हालात दो दिन पहले बुरी तरह खराब हो गए। सरकार ने ऐलान किया कि पांच शहरों को 26 अप्रैल से 29 अप्रैल तक पूरी तरह बंद किया जाएगा। इसके बाद पैनिक बाइंग शुरू हो गई। तमिलनाडु ने कहा है कि 3 मई के बाद लॉकडाउन पर वह केंद्र की गाइडलाइंस को फॉलो करेगा। हालात को देखते हुए यहां भी लॉकडाउन जारी रखा जा सकता है।
बाकी राज्‍यों का क्‍या है रुख
पश्चिम बंगाल और ओडिशा ने भी लॉकडाउन आगे बढ़ाने की बात कही है। आंध्र प्रदेश, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु ने कहा कि वे केंद्र के निर्देशों का पालन करेंगे। असम, केरल और बिहार इस बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राज्‍यों/केंद्र शासित प्रदेशों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के बाद कोई फैसला लेना चाहते हैं।


4/27/2020 6:51:00 PM kids programming
lockdo
Source:

Leave a comment






Latest post