कोरोना वायरस की वजह से देश में जारी लॉकडाउन के कारण देश ठप है। मजदूर पैदल घर लौटने को मजबूर हैं, किसानों की हालत खस्ता है, सरकार थम चुके कारोबार के पहियों को दोबारा चालू करने की कोशिशों में लगी हुई है। इसी के मद्देनजर वित्त मंत्री आज 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज की तीसरी किस्त का एलान करेंगी। 

 

गुरुवार को दूसरी किस्त का ब्यौरा देते हुए उन्होंने समाज के आखिरी तबके पर खड़े लोगों तक मदद पहुंचाने का दावा किया था।

किसे क्या मिला

8 करोड़ प्रवासी मजदूरों को मुफ्त में अनाज दिया जाएगा

अनाज बांटने के लिए केंद्र सरकार 3,500 करोड़ रुपये खर्च करेगी

अगले तीन महीने में एक देश-एक राशन कार्ड की सुविधा मिलेगी

दो महीने मुफ्त राशन दिया जाएगा, बीपीएल कार्ड जरूरी नहीं होगा

प्रति परिवार एक किलो चना दिया जाएगा

प्रति व्यक्ति पांच किलो गेहूं या चावल दिया जाएगा

रेहड़ी पटरी वालों के लिए 5 हजार करोड़ का क्रेडिट सुविधा फंड बनाया है, जिससे उन्हें 10 हजार तक का कर्ज मिल सकेगा

50 लाख फेरीवालों को पांच हजार करोड़ की मदद दी जाएगी

37 लाख छोटे कामगारों को कर्ज के ब्याज पर छूट दी जाएगी

नाबार्ड से किसानों को 30 हजार करोड़ रुपये की मदद पहुंचाई जाएगी

ढाई करोड़ किसानों के लिए दो लाख करोड़ रुपये की योजना बनाई गई है

तीन करोड़ किसानों के कर्ज की किस्तों में छूट की समय सीमा 31 मई की गई

6-18 लाख सालाना आय वालों के लिए 70 हजार करोड़ की आवास योजना बनाई गई

3.3 लाख मध्यम वर्ग के परिवार को मिलेगा फायदा