भारतीय वायु सेना तमिलनाडु के कोयंबटूर में 27 मई को अपने 18वें बेड़े की 'फ्लाइंग बुलेट' को शुरू करेगी। समाचार एजेंसी पीटीआइ के मुताबिक, यह बेड़ा चौथी पीढ़ी वाले स्वदेशी हल्‍के लड़ाकू विमान यानी एलसीए तेजस से लैस होगा। भारतीय वायुसेना के चीफ ऑफ एयर स्टाफ एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया इस फ्लाइंग बुलेट को ऑपरेशनल करेंगे। कार्यक्रम का आयोजन कोयंबटूर के पास सुलूर एयरफोर्स स्टेशन पर होगा।

रक्षा मंत्रालय की प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि तेजस को उड़ाने वाली वायुसेना की यह दूसरी स्क्वाड्रन होगी। इससे पहले 45 वीं स्‍क्वाड्रन ऐसा कर चुकी है। इस 18वीं स्‍क्वाड्रन की स्थापना 1965 में की गई थी। यह बेड़ा पहले मिग-27 विमान उड़ा चुका है। इसका लक्ष्य वाक्य है 'तीव्र और निर्भय' के साथ... इस स्क्वाड्रन को इसी साल पहली अप्रैल को सुलूर में दोबारा शुरू किया गया था। बेड़े ने भारत और पाकिस्तान के बीच साल 1971 में हुए युद्ध में हिस्सा लिया था।