पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने अगले साल मार्च में जी-20 की अमृतसर में होने वाली बैठक की तैयारियों की सोमवार को समीक्षा की। जी-20 या 20 समूह विश्व के प्रमुख विकसित और विकासशील देशों की अर्थव्यवस्थाओं का अंतर सरकारी मंच है।

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने अगले साल मार्च में जी-20 की अमृतसर में होने वाली बैठक की तैयारियों की सोमवार को समीक्षा की। जी-20 या 20 समूह विश्व के प्रमुख विकसित और विकासशील देशों की अर्थव्यवस्थाओं का अंतर सरकारी मंच है। इसमें अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, दक्षिण कोरिया, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, ब्रिटेन, अमेरिका और यूरोपीय संघ शामिल हैं।

जी-20 की अध्यक्षता की जिम्मेदारी एक दिसंबर 2022 से नवंबर 2023 तक भारत के पास होगी और इस दौरान समूह की करीब 200 बैठकें देश में होंगी। यहां जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक इससे संबंधित बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अमृतसर में होने वाली बैठक मार्च महीने में होगी और दुनिया के प्रमुख देश इसमें शामिल होंगे। मान ने कहा, ‘‘यह सौभाग्य की बात है कि हमें इस बैठक की मेजबानी करने का मौका मिला है, जिसमें शामिल देशों द्वारा शिक्षा पर मंथन किया जाएगा।’’

उन्होंने कहा कि इस वैश्विक आयोजन को सफल बनाने के लिए वृहद पैमाने पर तैयारियां की जा रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे शहर को पांच सेक्टर में बांटा गया है और प्रत्येक सेक्टर में प्रभावी प्रबंधन के लिए वरिष्ठ प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को तैनात किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ये अधिकारी अपने-अपने तैनाती क्षेत्र में सम्मेलन के दौरान गतिविधियों को सुचारू रूप से संपन्न कराने के लिए जिम्मेदार होंगे।

मुख्यमंत्री ने आयोजन के दौरानदैनिक आधार पर होने वाली गतिविधियों की निगरानी के लिए मंत्रिमंडल की उप समिति भी गठित की है। मान ने मंत्रिमंडल की उप समिति की सहायता करने और बिना बाधा कार्यक्रम को संपन्न करने के लिए मुख्य सचिव विजय कुमार जान्जुआ की अध्यक्षता में उच्च अधिकार प्राप्त समिति का भी गठन किया है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.