पावरकॉम ने बिजली की बढ़ती लागत का हवाला देते हुए इसकी वसूली के लिए राज्य सरकार से आग्रह किया था। पावरकॉम की इस मांग को सरकार ने मंजूरी दे दी है। सूत्रों के अनुसार राज्य सरकार की ओर से जल्द बिजली दरें बढ़ाने संबंधी सर्कुलर जारी किया जा सकता है।

त्योहारों के मौसम में पंजाब सरकार सूबे के बिजली उपभोक्ताओं को झटका देने जा रही है। घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को प्रतिमाह 300 यूनिट मुफ्त बिजली देने के बाद अब पंजाब स्टेट पावर कारपोरेशन लिमिटेड (पावरकॉम) ने राज्य में बिजली पर 12-13 पैसे प्रति यूनिट शुल्क दर बढ़ाने का फैसला किया है।

पावरकॉम ने बिजली की बढ़ती लागत का हवाला देते हुए इसकी वसूली के लिए राज्य सरकार से आग्रह किया था। पावरकॉम की इस मांग को सरकार ने मंजूरी दे दी है। सूत्रों के अनुसार राज्य सरकार की ओर से जल्द बिजली दरें बढ़ाने संबंधी सर्कुलर जारी किया जा सकता है। इसके तहत घरेलू और औद्योगिक उपभोक्ताओं के लिए बिजली दरों में अलग-अलग बढ़ोतरी की जा रही है। घरेलू उपभोक्ता के लिए 12 पैसे प्रति यूनिट और औद्योगिक उपभोक्ताओं के लिए 13 पैसे केवीकेएच की बढ़ोतरी की जाएगी।
गौरतलब है कि पावरकॉम ने गर्मी के मौसम के दौरान उपभोक्ताओं को बिजली की निर्बाध आपूर्ति के लिए महंगी दरों पर बिजली और कोयला खरीदा था। इससे विभाग को तय दरों के मुकाबले महंगी दरों पर बिजली मिली थीपावरकॉम द्वारा घरेलू उपभोक्ताओं के लिए बिजली दरों में की जाने वाली उक्त बढ़ोतरी का उन लोगों पर कोई असर नहीं होगा, जिनका बिजली का बिल ‘300 यूनिट तक जीरो बिल’ की स्कीम के तहत शून्य आ रहा है। नई दरों का केवल उन उपभोक्ताओं पर असर होगा, जिन विशेष वर्ग में 300 यूनिट तक को बिजली बिल माफ हैं लेकिन मीटर व अन्य शुल्क अदा करने होते हैं। इस वर्ग में आयकरदाता एससी-एसटी आदि शामिल हैं।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.