अमृतसर एसटीएफ ने तरनतारन की गोइंदवाल साहिब जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट बलबीर सिंह को उसके छह साथियों सहित गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्हें कैदियों को ड्रग्स और मोबाइल मुहैया करवाने के आरोप में गिरफ्तार किया है. डिप्टी सुपरिटेंडेंट बलबीर सिंह पिछले 10 माह से इस जेल में तैनात थे. उन पर लाखों की वसूली करने का आरोप है.

चंडीगढ़. अमृतसर एसटीएफ ने तरनतारन की गोइंदवाल साहिब जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट बलबीर सिंह को उसके छह साथियों सहित गिरफ्तार कर लिया गया है. उन्हें कैदियों को ड्रग्स और मोबाइल मुहैया करवाने के आरोप में गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश किया जहां से उन्हें पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है. बताया जा रहा है कि डिप्टी सुपरिटेंडेंट बलबीर सिंह पिछले 10 माह से इस जेल में तैनात थे.

सूत्रों का कहना है कि वह ड्रग्स और मोबाइल सप्लाई करने के एवज में कैदियों से अब तक लाखों रुपए वसूल चुका है. उसने बाकायदा मोबाइल और चार्ज के रेट तय कर रखे थे. पूछताछ में खुलासा हुआ है कि जेल में आरोपी बलबीर सिंह और उसके साथी 2जी मोबाइल के 10 हजार, 4जी के 40 हजार और चार्जर के 2 हजार रुपए वसूल करते थे. कुख्यात कैदियों से सुविधाओं के लिए 3 लाख रुपए तक वसूल किए जाते थे.

कपूरथला गोइंदवाल साहिब जेल पहुंचे थे बलबीर सिंह
बताते हैं कि डिप्टी सुपरिटेंडेंट जेल बलबीर सिंह को कपूरथला जेल से ट्रांसफर कर गोइंदवाल साहिब जेल में तैनात किया गया था. कुछ माह पहले इसी जेल में एक सुरक्षा गार्ड बीड़ी के बंडल बेचते हुए पकड़ा गया था. वह बंडलों को अपने प्राइवेट पार्ट में छुपा कर रखता था और एक बंडल करीब 300 रुपए में बेचता था. इसका खुलासा होने के बावजूद भी जेल में ड्रग्स और मोबाइल फोन की सप्लाई का सिलसिला रुका नहीं था.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.