पहले से महंगाई की मार झेल रहे पंजाब के लोगों को वेरका ने फेस्टिवल सीजन में दूध के दाम बढ़ा कर झटका दिया है. वेरका ने दूध के दामों में 2 रुपए प्रति लीटर की बढोतरी की है. दूध की बढ़ी हुई दरें कल यानी 16 अक्टूबर से लागू हो जाएंगी.

पंजाब स्टेट कोऑपरेटिव मिल्क प्रोड्यूसर्स फेडरेशन लिमिटेड ने दूध के दाम में 2 रुपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी करने का फैसला किया है. सहकारी समिति अपने उत्पादों को ‘मिल्कफेड वेरका’ के ब्रांड नाम से बेचती है और संशोधित मूल्य कल से ही प्रभावी होगा. डेयरी फार्मिंग में चारे और परिवहन की लागत बढ़ने से दूध का उत्पादन महंगा हो जाता है.

मालूम हो कि वेरका ने इससे पहले अगस्त और मार्च माह में भी दूध के दामों में दो रुपए की बढ़ोतरी की थी. वेरका प्रबंधकों का कहना है कि किसानों ने मांग की थी कि पशु चारा महंगा होने के कारण उनसे खरीदे जाने वाले दूध की कीमतों में भी इजाफा किया जाना चाहिए. इसलिए दूध की कीमतों में की गई बढ़ोतरी जायज है.

कीमतों में इजाफे का सीधा बोझ पंजाब के उपभोक्ताओं पर पड़ेगा. पंजाब के शहरी क्षेत्रों में मिल्कफेड वेरका का बाजार में 60 फीसदी वर्चस्व है. राज्य में दूध की दैनिक मांग करीब 12 लाख लीटर है. डेयरी कंपनियों ने इस साल मार्च और अगस्त में दूध की कीमत में 2 रुपए की बढ़ोतरी की थी. संशोधित दरें 1 मार्च, 2022 से प्रभावी थीं. इसका कारण बढ़ती लागत और डेयरी संचालन में बढ़ता खर्चा था. बाजार में मवेशियों के चारे की कीमत 20 प्रतिशत तक बढ़ गई है, जो डेयरी उद्योग में चारा का मुख्य स्रोत है.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.