असदुद्दीन ओवैसी सूरज पूर्वी सीट से पार्टी उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार के लिए पहुंचे थे। जैसे ही उन्होंने अपना भाषण देना शुरू किया उनके सामने मोदी-मोदी के नारे लगाए जाने लगे। इतना ही नहीं, उन्हें काले झंडे भी दिखाए गए।

गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर जबरदस्त तरीके से प्रचार जारी है। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी भी लगातार पार्टी के पक्ष में प्रचार के लिए गुजरात का दौरा कर रहे हैं। इसी दौरान सूरत में उनकी एक जनसभा थी। लेकिन इस जनसभा में ओवैसी के सामने ही मोदी-मोदी के नारे लगे। आश्चर्य की बात यह है कि कुछ मुस्लिम युवाओं ने ही ओवैसी को काले झंडे भी दिखाए। सोशल मीडिया पर इसका वीडियो वायरल हो गया है। दरअसल, असदुद्दीन ओवैसी सूरज पूर्वी सीट से पार्टी उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार के लिए पहुंचे थे। जैसे ही उन्होंने अपना भाषण देना शुरू किया उनके सामने मोदी-मोदी के नारे लगाए जाने लगे। इतना ही नहीं, उन्हें काले झंडे भी दिखाए गए।

ओवैसी के साथ-साथ उनकी पार्टी के नेता भी काफी असहज दिखने लगे। ओवैसी लगातार भाजपा को घेरने की कोशिश कर रहे हैं। इतना ही नहीं, ईडब्ल्यूएस आरक्षण को लेकर भी ओवैसी लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर है। उन्होंने कहा कि ईडब्ल्यूएस कानून मोदी सरकार का धोखा है। मैंने संसद में इसका विरोध किया था। उन्होंने आरोप लगाया कि यह कानून आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए नहीं बल्कि अपर कास्ट के लिए बनाया गया है। गरीब आदिवासी के साथ छलावा हुआ है। उन्होंने सभी से भाजपा के पक्ष में वोट नहीं करने की अपील की। उन्होंने कहा कि मोदी जी गुजरात के मुख्यमंत्री से प्रधानमंत्री बन गए। लेकिन यहां के लोगों को क्या मिला। अपने संबोधन में ओवैसी ने बिलकिस बानो का भी मुद्दा उठाया।

अब तो बता दे कि गुजरात में भाजपा ने यूनिफॉर्म सिविल कोड को लेकर एक कमेटी बनाई है। इस पर भी असदुद्दीन ओवैसी हमलावर है। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा यूनिफॉर्म सिविल कोड लेकर आती है तो आपके शिनाख्त को खत्म करके रख देंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जो कहते हैं कि ओवैसी के आने से फायदा होता है, यह बताएं कि उनके लिए चुनाव कौन लड़ेगा। आम आदमी पार्टी पर भी उन्होंने संत कसा। उन्होंने यह भी कहा कि छोटे रिचार्ज से पूछो, बिलकिस बानो के बारे में बात करेंगे। ओवैसी लगातार केजरीवाल पर छोटा रिचार्ज कहकर हमला करते रहें। उन्होंने कहा कि भाजपा, कांग्रेस या फिर छोटा रिचार्ज, सभी पार्टियां उनसे नफरत करती हैं। गुजरात में उन्होंने नौकरी और विकास का मुद्दा भी उठाया।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.