पुलिस के मुताबिक 35 साल का सरपंच अमनदीप सिंह 10वीं पास है। इस गैंग के गुर्गों के खिलाफ कत्ल, लूटपाट और नशा तस्करी के मुकदमे दर्ज हैं। जिनमें यह गिरफ्तार होकर जेल भी जा चुके हैं। आरोपी दिलप्रीत सिंह भाना के खिलाफ कत्ल केस दर्ज है।

घन्नौर के यूको बैंक में लाखों की लूट का मास्टरमाइंड जिला रोपड़ के गांव हफिजाबाद का मौजूदा सरपंच अमनदीप सिंह निकला, जिसने अपने गैंग के साथ मिलकर बड़े शातिराना ढंग से पूरी वारदात को अंजाम दिया। यही नहीं जिला फतेहगढ़ साहिब के गांव संघौल में 10 नवंबर 2022 को गन प्वाइंट पर एसबीआई बैंक में हुई पांच लाख की डकैती मामले में यह सरपंच वांटेड था।

बताया जा रहा है कि इस सरपंच की पंजाब में पूर्व सरकार के साथ काफी नजदीकियां रही हैं। सरपंच के खिलाफ सात मुकदमे जिला रोपड़ के थाना चमकौर साहिब में दर्ज हैं। ऐसे में सरपंच की इसके गैंग मेंबरों साथ गिरफ्तारी से पुलिस को काफी राहत मिली है। एसएसपी वरूण शर्मा ने इसकी पुष्टि करते बताया कि सरपंच अमनदीप सिंह के दो साथियों को कुछ समय पहले पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद इसने आरोपी दिलप्रीत सिंह भाना के साथ मिलकर नया गैंग बना लिया था।

पुलिस के मुताबिक 35 साल का सरपंच अमनदीप सिंह 10वीं पास है। इस गैंग के गुर्गों के खिलाफ कत्ल, लूटपाट और नशा तस्करी के मुकदमे दर्ज हैं। जिनमें यह गिरफ्तार होकर जेल भी जा चुके हैं। आरोपी दिलप्रीत सिंह भाना के खिलाफ कत्ल केस दर्ज है, जो साल 2017-18 में रोपड़ जेल में रहा है और आरोपी नरिंदर सिंह के खिलाफ भी लूटपाट, लड़ाई-झगड़े, मारपीट और असलाह एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज है।
गैंग ने फतेहगढ़ साहिब के गांव संघौल में बैंक में पांच लाख की लूट की वारदात को अंजाम दिया था। इस दौरान गैंग ने बैंक गार्ड पर हमला कर उससे 12 बोर राइफल छीन ली थी और फरार हो गए थे। इस संबंध में फतेहगढ़ साहिब के थाना खमानो में केस दर्ज है। 18 नवंबर 2022 को पिस्टल के बल पर गांव दुमणा जिला रोपड़ के डाकखाने में तैनात महिला पोस्टमाटर से 25 हजार रुपये का कैश लूट लिया था। इस संबंध में थाना मोरिंडा जिला रोपड़ (रूपनगर) में केस दर्ज है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.