PUNJAB WEATHER

आतंक के गढ़ त्राल से हिजबुल का सफाया

kids programming
encounter

आतंक के गढ़ त्राल से हिजबुल का सफाया

पिछले कुछ सालों से हमारे सुरक्षाबल जिस तरह आतंकवाद के ख़िलाफ़ एक्शन मूड में है और एक के बाद एक आतंकवादी को मार रहे हैं, उसी का नतीजा है कि कभी आतंक का गढ़ रहा जम्मू-कश्मीर के पुलवामा का त्राल इलाका आज हिजबुल मुजाहिदीन के आतंक से मुक्त हो गया है. जम्मू-कश्मीर पुलिस ने ये दावा किया है.

 

जम्मू-कश्मीर के आईजी पी विजय कुमार ने कहा है कि 1989 के बाद ये पहली बार हुआ है कि त्राल हिजबुल मुजाहिदीन के आतंक से मुक्त हुआ है. हिजबुल मुजाहिदीन का पोस्टर बॉय आतंकी बुरहान वानी त्राल का ही था.ऑपरेशन ऑलआउट के तहत पिछले एक साल में 100 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराया गया, जिसमें ज्यादातर हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी थे. 2014 के बाद से हमारे सुरक्षाबलों के हाथों से मारे गए शीर्ष हिजबुल मुजाहिदीन कमांडरों में आदिल खान, बुरहान वानी, सुबजर भट, जाकिर मूसा शामिल हैं. हालांकि जाकिर बाद में हिजबुल से अलग होकर अंसार गजावतुल हिंद में शामिल हुआ. इसके अलावा आकिब मौलवी, हामद खान, शकूर, रियाज नाइकू और मोहम्मद कासिम शामिल हैं.

एक के बाद एक आतंक के सौदागरों पर हमारे सुरक्षाबल भारी पड़ रहे हैं. सीमा पार से घुसपैठ की कोशिशों को लगातार हमारे जवान नाकाम कर रहे हैं. इस साल जून तक कई घुसपैठियों को सीमा पर ही मार गिराया गया है. यानि आतंक की तस्करी पर हर तरह से आज घाटी में सिर्फ कुछ ही आतंकवादी बचे हुए हैं, जिनको भी जल्द उनके साथियों के पास पहुंचा दिया जाएगा. जिस तरह से आज त्राल हिजबुल मुजाहिदीन के आतंक से मुक्त हुआ है और जिस तरह से हमारी सेना और जवान आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई कर रहे हैं, वो दिन दूर नहीं जब पूरा जम्मू-कश्मीर भी आतंकवाद मुक्त हो जाएगा.लगाम लगा दी गई है.


6/28/2020 10:22:01 AM kids programming
encounter
Source:

Leave a comment






Latest post