गोल्डी बराड़ को लेकर FBI ने विदेश मंत्रालय के जरिए पंजाब पुलिस से संपर्क साधा. गोल्डी बराड़ को कैलिफोर्निया की सैक्रामेंटो सिटी से पकड़ा गया था. गैंगस्टर से FBI ने लंबी पूछताछ भी की है. पंजाब पुलिस और भारत की सेंट्रल एजेंसियां, अमेरिकी एजेंसी FBI के इस कम्युनिकेशन को गोल्डी बराड़ के प्रत्यर्पण के संबंध में बड़ी कामयाबी मान रही हैं.

 सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मुख्य साजिशकर्ता के बारे में जानकारियां मांगी हैं. गोल्डी बराड़ को कैलिफोर्निया की सैक्रामेंटो सिटी से पकड़ा गया था. पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने भी पुष्टि करते हुए बताया था कि मोस्ट वांटेड गैंगस्टर गोल्डी बराड़ को जल्द से जल्द भारत लाया जाएगा.

गैंगस्टर से FBI ने लंबी पूछताछ भी की है. पंजाब पुलिस और भारत की सेंट्रल एजेंसियां, अमेरिकी एजेंसी FBI के इस कम्युनिकेशन को गोल्डी बराड़ के प्रत्यर्पण के संबंध में बड़ी कामयाबी मान रही हैं. वह 2017 से कनाडा में था और कानून प्रवर्तन और प्रतिद्वंद्वी गिरोहों के डर से हाल ही में अमेरिका चला गया था. उसे 20 नवंबर के आसपास हिरासत में लिया गया था. बराड़ ने ही कथित रूप से पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या की साजिश रची थी, और फेसबुक पोस्ट के जरिए इसकी जिम्मेदारी भी ली थी. इंटरनेशनल लेवल पर अपनी पहचान बना चुके सिंगर सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को पंजाब के मनसा जिले में उनके गांव के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

इस हत्याकांड में संलिप्तता को लेकर 3 आरोपी एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं, जबकि 30 से अधिक गिरफ्तार हो चुके हैं. गोल्डी बराड़, गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गैंग का सदस्य है. बिश्नोई तिहाड़ जेल में बंद है. बराड़ गिरफ्तारी से बचने के लिए कभी कनाडा और कभी अमेरिका और अन्य देशों में छुप रहा था. गोल्डी बराड़, जिसका पूरा नाम सतिंदरजीत सिंह है, पांच साल पहले मूल रूप से स्टूडेंट वीजा पर कनाडा चला गया था, जहां वह एक ट्रक ड्राइवर के रूप में काम कर रहा था. हरियाणा और राजस्थान की सीमा से लगे पंजाब के दक्षिणी क्षेत्र में मुक्तसर जिले के मूल निवासी, गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्नोई करीब एक दशक पहले चंडीगढ़ में छात्र राजनीति के दिनों में दोस्त बने थे.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.