PUNJAB WEATHER

अगर कृषि कानून वापस नहीं लिए तो किसान आंदोलन तेज होगा सुखबीर बादल ने कहा


sukhbirsinghbadal

अगर कृषि कानून वापस नहीं लिए तो किसान आंदोलन तेज होगा सुखबीर बादल ने कहा

शिअद नेता सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल से शिअद मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने इस्तीफा देकर बता दिया था अकाली दल किसानों के साथ खड़ा है। 

पंजाब में आगामी विधानसभा चुनाव  2022 में केंद्र के तीन कृषि कानून मुख्य मुद्दा रहेंगे. करीब 7 महीने से किसान दिल्ली की पांच अलग-अलग सीमाओं पर आंदोलन कर रहे हैं. वहीं सरकार और किसानों के बीच लंबे समय से बातचीत भी बंद है. इन सबके बीच शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री को शुरुआत करनी होगी. वह परिवार के मुखिया की तरह है.

बादल ने कहा कि कानून लोगों के लिए बनाए जाते हैं. अगर लोग आपके बनाए कानून नहीं चाहते हैं तो किसी में यह अहंकार नहीं होना चाहिए कि जो हो गया वह वापस नहीं हो सकता है. अगर मोदी को लोगों का प्रधानमंत्री बने रहना है तो उन्हें जल्द से जल्द कानून वापस लेना होगा .

अंग्रेजी अखबार हिन्दुस्तान टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में बदल ने कहा कि अगर सरकार कानूनों को वापस नहीं लेगी तो आंदोलन और तेज होगा. फिर यह आंदोलन जारी रहेगा, चाहे छह महीने, एक साल या दो साल लगें. देखिए वो गरीब किसान किस तरह सर्दी, गर्मी, कोविड और मच्छरों के बावजूद डटे हुए हैं.
यह पूछे जाने पर कि उनकी पार्टी ने शुरुआत में अध्यादेश के साथ थी तो बादल  ने दावा किया कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार में सहयोगी होने के नाते हम उस जाल में फंस गए.  जब केंद्र ने संसद में कृषि कानूनों पर जोर दिया, तो केंद्रीय मंत्रिमंडल में एकमात्र शिअद मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने इस्तीफा दे दिया और हम एनडीए से बाहर हो गए. इसलिए अकाली दल किसानों के साथ खड़ा है.


6/19/2021 2:10:03 PM kids programming
sukhbirsinghbadal
Source:

Jalandhar Gallery

Leave a comment