लोकसभा में सोमवार को विदेश मंत्री एस जयशंकर ने राहुल गांधी द्वारा भारतीय सेना को लेकर की गई टिप्पणी पर नाराजगी जताई. उन्होंने कहा कि भारतीय जवानों के लिए पिटाई शब्द का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए.

नई दिल्ली. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भारतीय जवानों के लिए पिटाई शब्द का इस्तेमाल करने पर सोमवार को लोकसभा में राहुल गांधी पर निशाना साधा. विदेश मंत्री ने कहा कि हमें विपक्ष की आलोचना से कोई परेशानी नहीं है, लेकिन हमें जवानों का अपमान नहीं करना चाहिए. हमारे सैनिकों के लिए पिटाई शब्द का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए. बीते 9 दिसंबर को अरुणाचल प्रदेश के तवांग में चीनी सैनिकों के साथ भारतीय जवानों की झड़प हो गई थी, जिसपर राहुल गांधी ने टिप्पणी करते हुए कहा था कि चीन हमारे सैनिकों को पीटकर चला गया.

राजनीतिक आलोचना से कोई परेशानी नहींः एस जयशंकर
एस जयशंकर ने इस टिप्पणी की आलोचना करते हुए कहा, ‘हमें राजनीतिक आलोचना से कोई परेशानी नहीं है, लेकिन हमें अपने जवानों का अपमान नहीं करना चाहिए.’ विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा, ‘मैंने सुना है कि मुझे अपनी समझ को और विकसित करने की जरूरत है. मैं पहले यह देखूंगा कि यह सलाह कौन दे रहा है और इसके बाद ही मैं बयान का सम्मान कर सकता हूं. हमारे जवानों के लिए पिटाई शब्द का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए.’एस जयशंकर ने कहा कि मुझे लगता है हमें प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से अपने जवानों की आलोचना नहीं करनी चाहिए. हमारे जवान यांगत्से में 13,000 फीट की ऊंचाई पर खड़े हैं, हमारी सीमा की रक्षा कर रहे हैं, वे ‘पिटाई’ शब्द के लायक नहीं हैं.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.