PUNJAB WEATHER

गूगल के सीईओ ने भारत में महामारी के खिलाफ लड़ाई में प्रधानमंत्री के नेतृत्व की सराहना की

kids programming

गूगल के सीईओ ने भारत में महामारी के खिलाफ लड़ाई में प्रधानमंत्री के नेतृत्व की सराहना की

गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने पीएम मोदी के साथ वर्चुल बातचीत की। डिजिटल इंडिया के लिए गूगल अगले 5-10 सालों में 75,000  करोड़ रुपये का निवेश करने वाला है। गूगल का यह निवेश इक्विटी इनवेस्टमेंट, पार्टनरशिप और ऑपरेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर इकोसिस्टम इंडस्ट्री में होगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की ठोस पहल पर लॉकडाउन करने के मजबूत कदम ने महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई की अत्‍यंत सुदृढ़ नींव रखी।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदई पिचाई से प्रौद्योगिकी के व्यापक इस्तेमाल करने और अन्य विषयों पर विस्तार से चर्चा की। पीएम मोदी ने विश्व की व्यापारिक हस्ती से वैश्विक महामारी और इसके निपटारे के साथ ही नई कार्य संस्कृति पर भी चर्चा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  और सुंदर पिचाई ने भारतीय किसानों, युवाओं और उद्यमियों के बदलाव में प्रौद्योगिकी की ताकत का फायदा उठाने पर भी चर्चा की। पीएम मोदी ने सुंदर पिचाई के साथ-स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रौद्योगिकी का और अधिक लाभ उठाने, वर्चुअल लैब के आइडिया को विद्यार्थि‍यों और किसानों के लिए उपयोग करने, डाटा सुरक्षा और साइबर संरक्षा के महत्व, ऑनलाइन शिक्षा का दायरा बढ़ाने के तकनीकी समाधान, डिजिटल भुगतान के क्षेत्र में प्रगति जैसे विषयों पर चर्चा की।

सुंदर पिचाई ने गूगल फार इंडिया इवेंट के 6वें संस्करण को संबोधित करते हुए गूगल फार इंडिया डिजिटाइजेशन फंड कदम के तहत भारत में 75,000 करोड़ रुपए का निवेश अगले 5 से 7 वर्षों के बीच में करने, भारत के डिजिटाइजेशन में महत्वपूर्ण चार क्षेत्रों में निवेश पर फोकस करने, हरेक भारतीय को उनकी ही भाषा में सूचना पहुंचना और किफयती दरों में पहुंच बनाने, नए उत्पादों और सेवाओं का निर्माण करने, डिजिटल परिवर्तन अपनाने वाले व्यवसायों को सशक्त बनाने, तकनीक का फायदा उठाने और स्वास्थ्य, शिक्षा और कृषि के क्षेत्र जैसे सामाजिक क्षेत्रों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसे कदमों की घोषणा की। 

पिचाई ने प्रधानमंत्री को कोविड-19 के बारे में लोगों के बीच जागरूकता बढ़ाने में मदद करने के साथ-साथ इस संबंध में विश्वसनीय जानकारियां प्रदान करने के लिए गूगल द्वारा किए गए प्रयासों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की ठोस पहल पर लॉकडाउन करने के मजबूत कदम ने महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई की अत्‍यंत सुदृढ़ नींव रखी। प्रधानमंत्री ने भ्रामक सूचनाओं की गंभीर समस्‍या से निपटने और महामारी से जुड़ी आवश्यक सावधानियों के बारे में लोगों को सटीक जानकारियां देने में गूगल द्वारा निभाई गई अत्‍यंत सक्रिय भूमिका की भूरि-भूरि प्रशंसा की। उन्होंने स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रौद्योगिकी का और अधिक लाभ उठाने के बारे में भी चर्चा की।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए इलेक्ट्रानिक और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने गूगल के देश में 75000 करोड़ रुपए निवेश करने के फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि देश में डिजिटल अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ रही है और गूगल के इस फंड से इसमें तेजी आयेगी। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि ई-पाठशाला मंच से और अधिक भारतीयों को शिक्षित करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि गूगल के निवेश से इसमें काफी प्रगति होगी।

देश में व्यापार के लिए सुगम माहौल होने के कारण वैश्विक कंपनियां खासतौर पर स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में भारी निवेश करने के लिए सामने आने लगी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने ने भारत में निवेश के बेहत अवसर उपलब्ध कराए हैं। जिसकी वजह से विदेशी कंपनियां बड़ी मात्रा में भारत में निवेश करना चाहती हैं।


7/14/2020 9:54:10 AM kids programming
Source:

Leave a comment






Latest post