देश के पर्वतीय और मैदानी इलाकों के लोगों को फिलहाल कड़ाके की सर्दी से राहत मिलने की उम्‍मीद नहीं है. भारतीय मौसम विभाग ने जम्‍मू-कश्‍मीर से लेकर पश्चिम बंगाल और मेघालय तक के लिए अलर्ट जारी किया है. कई मैदानी राज्‍यों में घने से बहुत घने कोहरा छाए रहने और शीतलहर चलने का पूर्वानुमान है.

नई दिल्‍ली. देश का एक बड़ा हिस्‍सा इन दिनों कड़ाके की ठंड का सामना कर रहा है. घने कोहरे और शीतलहर ने आम जनजीवन को अस्‍तव्‍यस्‍त कर दिया है. भीषण ठंड के चलते लोग अपने-अपने घरों में दुबके रहने के लिए मजबूर हो गए हैं. घने कोहरे के कारण आवागमन भी प्रभावित हुआ है. ट्रेनें घंटों की देरी से चल रही हैं, वहीं सड़क मार्ग पर भी इसका व्‍यापक प्रभाव पड़ा है. इस बीच, भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने ताजा मौसम पूर्वानुमान जारी किया है. फिलहाल मौसम के तल्‍ख तेवर से राहत मिलने की उम्‍मीद न के बराबर है. कई राज्‍यों में शीतलहर चलने का अलर्ट जारी किया गया है. वहीं, उत्‍तर भारत के अधिकांश क्षेत्रों में घना से बहुत घना कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान है.

मौसम विभाग की ओर से जारी ताजा पूर्वानुमान के अनुसार, पंजाब हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्‍ली-एनसीआर, उत्‍तर प्रदेश और बिहार में अगले 5 दिनों तक घना से बहुत घना कोहरा छाया रहेगा. खासकर सुबह और शाम एवं रात के समय कोहरे प्रकोप ज्‍यादा रहने की संभावना है. पर्वतीय राज्‍यों जम्‍मू-कश्‍मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड में भी आने वाले 3 दिनों तक कोहरा छाया रह सकता है. पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, नगालैंड, त्रिपुरा, मणिपुर और मिजोरम के लोगों को भी आगामी 2 दिनों तक कोहरे के साए रहना पड़ सकता है. ओडिशा और छत्‍तीसगढ़ में बुधवार तक कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान है

राजस्‍थान, हरियाणा, चंडीगढ़, पंजाब और दिल्‍ली में भीषण शीतलहर चलने का अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग का कहना है कि 4 से 6 जनवरी 2023 तक इन प्रदेशों में भीषण ठंड पड़ेगी. ऐसे में लोगों को अतिरिक्‍त सावधानी बरतने की सलाह दी गई है. उत्‍तर प्रदेश और हिमाचल प्रदेश में भी अगले 2 से 3 दिनों तक शीतलहर का प्रकोप बरकरार रहने की संभावना जताई गई है. मध्‍य प्रदेश का कुछ हिस्‍सा भी शीतलहर की चपेट में है.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.