पिछले साल 11 सितंबर को फौजा सिंह सरारी के कथित भ्रष्टाचार का एक ऑडियो वायरल हुआ था. इस ऑडियो को खुद उनके ओएसडी तरसेम कपूर ने लीक किया था. इसके बाद से ही सरारी को लेकर आम आदमी पार्टी सवालों के कठघरे में थी. विपक्ष लगातार मुख्यमंत्री भगवंत मान और आम आदमी पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व पर फौजा सिंह सरारी का बचाने का आरोप लगा रहा था.
चंडीगढ़: पंजाब की भगवंत मान सरकार के कैबिनेट मंत्री फौजा सिंह सरारी ने इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने अपने इस फैसले के ​पीछे निजी कारणों का हवाला देते हुए कहा कि मैं आम आदमी पार्टी का वफादार सिपाही हूं और आगे भी रहूंगा. आपको बता दें कि कैबिनेट मंत्री फौजा सिंह सरारी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे जिसके चलते उन्हें कैबिनेट मंत्री का पद छोड़ना पड़ा है. सूत्रों की मानें तो पंजाब सरकार की कैबिनेट में बड़े फेरबदल की संभावना है. कई मंत्रियों के विभाग बदले जा सकते हैं और कुछ मंत्रियों की छुट्टी भी हो सकती है, फौजा सिंह के इस्तीफे को भी इसी से जोड़कर देखा जा रहा है. आम आदमी पार्टी पंजाब सरकार में नए चेहरों को मंत्री बनने का मौका दे सकती है.

\सूत्रों की मानें तो आज शाम 5 बजे तक मुख्यमंत्री भगवंत मान अपनी कैबिनेट का विस्तार कर सकते हैं और राजभवन में एक सादे समारोह में नई मंत्रियों को शपथ दिलाई जा सकती है. सरारी की जगह विधायक डॉ. बलबीर सिंह को मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की चर्चा है. भगवंत मान कैबिनेट में अब कुल 4 पद रक्ति हैं. सूत्रों की मानें तो बलबीर सिंह ने मुख्यमंत्री मान से मुलाकात कर खुद को कैबिनेट में मौका देने के लिए उनका धन्यवाद किया है. पिछले साल 11 सितंबर को फौजा सिंह सरारी के कथित भ्रष्टाचार का एक ऑडियो वायरल हुआ था. इस ऑडियो को खुद उनके ओएसडी तरसेम कपूर ने लीक किया था. इसके बाद से ही सरारी को लेकर आम आदमी पार्टी सवालों के कठघरे में थी. विपक्ष लगातार मुख्यमंत्री भगवंत मान और आम आदमी पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व पर फौजा सिंह सरारी का बचाने का आरोप लगा रहा था.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.