पंजाब में यात्रा के दौरान पगड़ी पहनने पर राहुल गांधी ने कहा, ‘मैंने जानबूझ कर पगड़ी पहनी. मैं आपको आपका इतिहास बताना चाहता हूं. 

पठानकोट. पंजाब में कांग्रेस विधायक दल के नेता प्रताप सिंह बाजवा ने गुरुवार को पार्टी सांसद राहुल गांधी को सलाह दी कि अगले साल किसी फर्जी व्यक्ति को ‘प्रधानमंत्री’ मत बनाना, बल्कि खुद ही बनना. बाजवा जब ये बात कह रहे थे, उस वक्त पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे भी वहीं मौजूद थे.

दरअसल, पठानकोट में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के पहुंचने पर एक जनसभा आयोजित की गई थी, जहां खड़गे की मौजूदगी में विधायक दल के नेता प्रताप सिंह बाजवा के अलावा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर राजा बरार और पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने भी राहुल गांधी को यही सलाह दी.

प्रताप सिंह बाजवा ने कहा, ‘वादा करके यहां से जाना, जब 24 में प्रधानमंत्री बनाना तो आपको बनाना. ये भी फैसला आज सुना के जाना. बाद में ये न कहना की दूसरे को बना देना. हमने न मानना, ये सुन लो स्टेज से. प्रधानमंत्री आप ही रहोगे. हमें कोई और नहीं फर्जी बनाना. ये पहले कई लाए थे इसे बना दो. नहीं, हमने सिर्फ आपको मानना.’

वहीं, अमरिंदर राजा बरार ने कहा कि पार्टी को मौकापरस्त लोगों से सावधान रहना चाहिए जो दूसरी पार्टियों से आते हैं. बरार ने कहा कि जब हम जानवर भी खरीदते है तो पूरी जांच करते हैं. सुखजिंदर रंधावा ने भी पार्टी नेतृत्व को गलत लोगों को पार्टी में शामिल न करने का सुझाव दिया.

बरार और सुखजिंदर रंधावा के बयानों को एक दिन पहले पार्टी छोड़नेवाले मनप्रीत बादल के संदर्भ के अलावा नवजोत सिंह सिद्धू के संदर्भ में देखा जा रहा है. सिद्धू हालांकि अभी कांग्रेस में ही हैं, लेकिन वो भी बीजेपी से पार्टी में शामिल हुए थे.

पंजाब में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के अंतिम दिन यहां एक रैली के दौरान राहुल गांधी ने यह आरोप लगाया कि भाजपा एक धर्म को दूसरे धर्म से, एक जाति को दूसरी जाति से और एक भाषा को दूसरी भाषा से लड़ाने का काम कर रही है. कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया, ‘वे (भाजपा) भय पैदा करते हैं. उनकी सभी नीतियां किसी न किसी के लिए डर का कारण बनती हैं.’

पंजाब में यात्रा के दौरान पगड़ी पहनने पर गांधी ने कहा, ‘मैंने जानबूझ कर पगड़ी पहनी. मैं आपको आपका इतिहास बताना चाहता हूं. आपके गुरुओं द्वारा दिखाये गये रास्ते का मैं सम्मान करता हूं और उसके सामने सिर झुकाता हूं, मेरा भी वही रास्ता है.’

रैली के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पंजाब प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वडिंग, नेता प्रतिपक्ष प्रताप सिंह बाजवा, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, वरिष्ठ नेता जयराम रमेश, हरिश चौधरी, के. सी. वेणुगोपाल और दिग्विजय सिंह सहित अन्य नेता भी उपस्थित रहे.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.